Hello दोस्तों आज के इस पोस्ट मे हम देखेंगे  की PIC Microcontroller क्या होता हैं।

What is PIC Microcontroller and its Advantage and Disadvantage

What is PIC Microcontroller Introduction –    हम जानते हैं की Microcontroller एक IC होता हैं जिसमे इनपुट, आउटपुट, सीपीयू, व मेमोरी एक सिंगल चिप मे होते हैं। 

इसी प्रकार से PIC Microcontroller भी होता हैं जिसमे एक सिंगल चिप होता हैं अर्थात एक ही चिप मे Processor, input/output port, Timer, Memory etc शामिल होते हैं । 

इसको Simple control Applications को Perform करने के लिए बनाया गया था इस प्रकार से इसे Peripheral interface controller कहा गया।

लेकिन इन दिनों इसे Programmable intelligent computer के नाम से भी जाना जाता हैं।

इसे PICK अर्थात पिक भी Pronounced किया जाता हैं।

इसका पूरा नाम Peripheral integrated Controller हैं।

यह Microcontroller की family का हैं जिसे  Microchip Technology द्वारा बनाया गया।

PIC Microcontroller को microchip technology द्वारा 1993 मे developed किया गया था।

PIC Microcontroller विश्व का सबसे Smallest Microcontroller होता हैं जिसको हम Different Task के लिए प्रोग्राम कर सकते हैं।

ये Microcontroller बहुत ही fast होते हैं और एक program को Execute करना बहुत ही easy होता हैं अन्य microcontroller की तुलना मे।

यह software और program द्वारा नियंत्रित किया जाता हैं जैसे की वे अलग अलग task और Controller Generation का प्रदर्शन करते हैं

PIC Microcontroller बहुत सारी Different New Application मे उसे किया जाता हैं।

जैसे –  smartphone, audio accessories,  computer control system,  alarm system,embedded system etc.

PIC Microcontroller मार्केट मे बहुत सारे Range मे उपलब्ध हैं इसके कुछ Range हैं  PIC16F84 to PIC16F887

PIC Microcontroller को program और Simulate किया जाता हैं Circuit wizard software के द्वारा।

यह Harvard Memory architecture पर based होता हैं।

Advantage of PIC Microcontroller 

  • ● PIC Microcontroller , Consistent होता है। और PIC की error बहुत कम होता है। 
  • ● इसमे RISC Architecture का उपयोग होता है इसलिए PIC Microcontroller का परफॉर्मेंस बहुत तेज होता है। 
  • ● अन्य Microcontroller की अपेक्षा इसमे बिजली की खपत बहुत कम होती है। 
  • ● इसकी प्रोग्रामिंग आसान होती है। 
  • ● इसमे इंटरफ़ेस करना आसान होता है। 

Disadvantage of PIC Microcontroller 

  • ● Program की लंबाई अधिक होती है। 
  • ● प्रोग्राम मेमोरी excessible नही होता है। 
  • ● PIC Microcontroller Topic से कई बार Exam में MCQ Question भी पूछे जाते है।  

MCQs Based On Theory

Q.1 How many clock pulses are confined by each machine cycle of Peripheral-Interface Controllers?

Ans. 4 

Q.2 PIC Stands for : 

Ans. Peripheral interface Controllers 

Q.3 Which of the following is not considered as a peripheral device?

Ans. CPU 

उम्मीद हैं आप लोगो को PIC के बारे मे Basic जानकारी मिल गयी होंगी अगले पोस्ट मे हम  इसके Architecture  को विस्तार से समझेंगे। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here